SBI VRS scheme 2020 एसबीआई द्वारा बीआरएस योजना की शुरुआत

SBI VRS scheme: एसबीआई द्वारा बीआरएस योजना की शुरुआत की गई है एसबीआई की तरफ से पेश की गई इस वीआरएस स्कीम के लिए बैंक के लगभग 30,190 कर्मचारी एलिजिबल है| बैंक का वीआरएस स्कीम का ड्राफ्ट भी तैयार कर लिया गया है फिलहाल बोर्ड ऑफ डायरेक्टर की परमिशन का इंतजार है| प्रस्तावित वीआरएस स्कीम दूसरी पारी टाइप बीआरएस 2020 वैसे परमानेंट कर्मचारी के लिए है जो बैंक के साथ 25 साल से जुड़े हैं या उनकी उम्र 55 साल है| यह योजना 25 1 सितंबर को खुलेगी और फरवरी तक लोगों के लिए उपलब्ध रहेगी। आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से संपूर्ण जानकारी उपलब्ध कर रहे हैं|

वीआरएस लेने वाले कर्मचारियों को रिटायरमेंट में बचे समय का 50% या पिछले 18 महीने में कोई सैलरी में जो कम होगा उसका 1% दिया जाएगा| साथ ही कर्मचारियों को ग्रेच्युटी पेंशन, भविष्य निधि और मेडिकल फैसिलिटी का फायदा भी मिलेगा| भारतीय स्टेट बैंक में 2019 मैं 2.57 लाख कर्मचारी कार्य थे| बीआरएस के लिए जो प्रपोजल रखा गया है उसके मुताबिक कुल 11,565 अधिकारी और 18,625 कर्मचारी इनके लिए एलिजिबल होंगे|

SBI VRS scheme 2020

SBI VRS scheme
SBI VRS scheme

एसबीआई द्वारा यह घोषणा की गई है कि वह इस साल 14,000 नई भर्तियां करेगा| इसके साथ ही उन्होंने अपने वीआरएस स्कीम को लेकर स्पष्टीकरण भी दिया है। एसबीआई अधिकारियों द्वारा कुछ दिन पहले ही 30,000 से ज्यादा लोगों के लिए स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना एंट्री रिटायरमेंट स्कीम लाने की घोषणा की थी|

योजना से संबंधित जानकारी

  • योजना का नाम- SBI VRS योजना
  • शुरू की गई- एसबीआई द्वारा
  • लाभ- एसबीआई में कार्यरत कर्मचारियों को
  • कुल अतिरिक्त भर्तियां- 14000{ अभी घोषणा की गई है}

एसबीआई की घोषणा के अनुसार एसबीआई के साथ अभी तक 2.49 लाख कर्मचारी जुड़े हुए हैं| 1 साल पहले तक इस बैंक में 2.57 कर्मचारी काम करते थे| बैंक ने कहा है कि बी आर सी स्कीम का यही उद्देश्य है कि वह कास्ट कटिंग नहीं करें जिन्हें तरक्की का मौका नहीं मिल पा रहा है वह बाहर अपने लिए मौका देख सके। बी आर एस एस की में कई कर्मचारियों को व्यक्तिगत तरक्की फिजिकल हेल्थ कंडीशन या पारिवारिक स्थितियों को आधार बनाया गया है|

एसबीआई द्वारा बनाई गई स्कीम के अंतर्गत 30190 करमचारी को एलिजिबल माना गया है| कट ऑफ डेट तक 25 साल की सर्विस पूरी करने वाले हैं जिनकी उम्र 55 साल से ज्यादा है अभी इस योजना के तहत रिटायरमेंट ले सकते हैं। एसबीआई द्वारा चलाई गई के कर्मचारियों के लिए महत्वपूर्ण है|

SBI VRS scheme Detail in Hindi

एसबीआई की घोषणा के अनुसार 1 दिसंबर को खोला जाएगा और फरवरी 2021 तक यह चालू रहेगी| वीआरएस स्कीम के तहत कर्मचारी को उन्हीं की बची हुई सर्विस की अवधि की 50% सैलरी है पिछले 18 महीने की कुल सैलरी में से जो कम होगा उसका वन टाइम पेमेंट किया जाएगा| इसके अलावा वीआरएस लेने वाले कर्मचारियों को ग्रेच्युटी पेंशन प्रोविडेंट फंड और मेडिकल की सुविधा भी दी जाएगी| एसबीआई द्वारा जो भी कहा गया है कि लोग इस योजना वीआरएस स्कीम को लागू तोर कर्मचारी घटाने के नजरिए से ना देखें साथ ही में उन्होंने कहा है कि वे अपने स्टाफ की ठीक से देखभाल करने वाली संस्था के तौर पर जाना जाता है बैंक के मुताबिक फिलहाल करीब 2.50 लाख स्टाफ है और इस साल 14,000 भर्तियां होंगी|

इस योजना के तहत यह कहा गया है कि सभी लोग जिन्होंने अपने नौकरी के 25 साल पूरे कर लिए हैं और साथ ही जिनकी आयु 55 वर्ष हो चुकी हैं वह इस योजना का लाभ उठा सकते हैं|

sbi vrs case study solution

इस योजना के तहत एसबीआई के लगभग 11,565 अधिकारी तथा 18,625 सबअधिकारी इस योजना के पात्र हैं| इस योजना के तहत अभी सभी अधिकारी जो रिटायरमेंट लेने के लिए सहमति जताते हैं उन्हें उनकी सैलरी का 50% अतिरिक्त दिया जाएगा| इसके अतिरिक्त अधिकारियों को ग्रेजुएटी, पेंशन, प्रोविडेंट और मेडिकल फैसिलिटी भी प्रदान की जाएगी|VRS योजना के अंतर्गत एसबीआई स्वेच्छा से सेवानिवृत्ति के लिए कर्मचारियों को यह योजना ने कराया है| इस योजना का प्रमुख उद्देश्य मानव संसाधन वाला गधों का अनुकूलन करना है इस योजना के अंतर्गत करियर में संतृप्ति के स्तर पर पहुंच चुके कर्मचारियों को विकल्प और एक सम्मानजनक विकास मार्ग प्रदान करना है इसमें ऐसे कर्मचारी हो सकते हैं जो अपनी परफॉर्मेंस के चरम पर ना हो या कोई व्यक्तिगत मुद्दा हो या बे बैंक के बाहर अपने पेशेवर या व्यक्तिगत जीवन को आगे बढ़ाना चाहते हैं|

SBI VRS scheme 2020: सूत्रों ने बताया है कि इस योजना के तहत अगर 30% योग्य कर्मचारी रिटायरमेंट को चुनते हैं तो बैंक को इससे कुल 1662.86 करोड रुपए की बचत होगी| यह अनुमान जुलाई 2020 के वेतन पर आधारित है| योजना के अंतर्गत वह स्टाफ सदस्य जिसका बीआरएस के तहत रिटायरमेंट का निवेदन स्वीकार किया जाएगा उसे सेवा की शेष अवधि के लिए वेतन की 50 फ़ीसदी की राशि अनुग्रह राशि के रूप में प्रदान की जाएगी| इसमें शर्तें लागू रहेंगे|

पात्रता

  • Document
  • Heading

वे सभी कर्मचारी जिन्होंने अपनी 25 वर्ष का कार्यकाल पूरा कर लिया है वह इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं|
इसके तहत जिनकी उम्र 55 साल हो वह इस योजना का लाभ उठा सकते हैं|
इसके अलावा इस स्कीम का लाभ वह कर्मचारी भी ले सकते हैं जिनको स्वास्थ्य संबंधी परेशानी है या फिर उन्हें एक जगह से दूसरी जगह पर जाने में दिक्कत है|
हालांकि जो भी कर्मचारी बैंक से बीआरसी लेते हैं वह 2 साल के बाद फिर से बैंक से किसी भी रूप में जुड़ सकती है|

SBI VRS scheme 2020: इस योजना के अंतर्गत सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि कर्मचारी को बचे हुए कार्यकाल की 50% सैलरी मिल जाएगी हालांकि यह सैलरी 18 महीनों की मौजूदा सैलरी से ज्यादा नहीं हो सकती है| यानी कर्मचारी को अधिकतम 18 महीनों की सैलरी मिलेगी| नियमों के मुताबिक ग्रेच्युटी और पीएफ का पैसा भी कर्मचारी को मिलेगा| इसके अतिरिक्त पेंशन और लीव एनकैशमेंट भी कर्मचारी को मिलेगा| बैंक नियमों के मुताबिक कर्मचारी को हाउसिंग लोन, कार लोन, एजुकेशन लोन का फायदा भी मिलेगा|

इसके अतिरिक्त बैंकों को भी बहुत अधिक फायदा पहुंचेगा इसने वीआरएस स्कीम के तहत 11565 अधिकारी और 18625 कर्मचारी हिस्सा लेने के लिए योग्य है अगर सभी कर्मचारी इस स्कीम के तहत आवेदन करते हैं तो बैंक को 2000 करोड रुपए से ज्यादा की बचत होगी| इसके साथ ही कर्मचारी को भी स्वेच्छा से रिटायरमेंट लेने में आसानी होगी| साथ ही उन्हें अतिरिक्त लाभ भी मिलेगा| एसबीआई बैंक द्वारा शुरू की गई है योजना कर्मचारियों के लिए बहुत ही लाभप्रद है| जो कर्मचारी रिटायरमेंट लेना चाहते हैं|

Leave a Comment

Your email address will not be published.